कपास

इस क्षेत्र की जलवायु और मिट्टी कपास की उपज के लिए बहुत उपयोगी है। मिर्ची की तरह कपास बड़वानी जिले के लोगों की जीवन रेखा बन गई है। परिणामस्वरूप जिले में कई सूती उद्योग स्थापित हैं।